गन्ने की खेती कैसे करते हैं sugarcane

गन्ने की खेती करने के लिए

  1. जलवायु और मिट्टी की चयन: गन्ने की खेती के लिए उचित जलवायु और मिट्टी का चयन करना महत्वपूर्ण है। गन्ना उष्णकटिबंधीय फसल होता है और उच्च तापमान और मात्रा में वर्षा को पसंद करता है। गन्ने के लिए अच्छी गुणवत्ता वाली मिट्टी गहरी और आर्द्र होनी चाहिए।
  2. खेत की तैयारी: खेत की तैयारी में सबसे पहले खेत को अच्छी तरह से छेदना चाहिए और खेत के छाछ को अलग रखना चाहिए। खेत में कमी निकालने के लिए उपयुक्त खाद देनी चाहिए और मिट्टी को मुल्च द्वारा ढंकना चाहिए।
  3. उगाई के लिए बीजों का चुनाव: अच्छी गुणवत्ता वाले गन्ने के बीजों का चयन करें। विशेषज्ञों से सलाह लें और स्थानीय बाजार में उच्च गुणवत्ता वाले बीज खरीदें।
  4. बीज बोना: गन्ने के बीज को नारियल के छिलके में रखकर नर्म मिट्टी में बोना जाता है। बीज की गहराई लगभग

गन्ने की खेती करने के लिए आगे जारी चरणों का पालन किया जाता है

:5. सिंचाई: गन्ने के खेत में प्रयोगी सिंचाई प्रणाली की व्यवस्था करें। यह फसल की जरूरतों के अनुसार निर्धारित समय पर पानी प्रदान करने में मदद करेगी। सिंचाई पानी की मात्रा, अंतराल और विधि को स्थानीय जलवायु, मिट्टी की प्रकृति और फसल की आवश्यकताओं के अनुसार निर्धारित करें।

6. खाद और उर्वरक: गन्ने के खेत में उचित मात्रा में खाद और उर्वरक का उपयोग करें। इसके लिए स्थानीय जलवायु, मिट्टी की गुणवत्ता और पैदावार की आवश्यकताओं का ध्यान रखें। किसानों को खाद और उर्वरकों के उचित उपयोग के लिए कृषि विज्ञान विशेषज्ञों से सलाह लेनी चाहिए।

7. खरपतवार: गन्ने के खेत में नियमित रूप से खरपतवार करें। खरपतवार से खराब फसलों को हटाने के साथ-साथ फसल की वृद्धि भी होती है। यह खरपतवार व्यवस्था मिट्टी की हवा पहुंचने को बेहतर बनाता है और नकारात्मक प्रभ

Leave a comment

निंबू की खेती भारत में बड़े पैमाने पर की जा रही हैं गर्मियों में किसानों की बल्ले बल्ले, अब हरियाणा के किसानो को मिलेगी जापानी खेती बाड़ी की मशीनें अवाकाडो की खेती है लाखों की कमाई कर रहा है Indainfarmer अदरक चाय में डालकर चाय सुकुन आ जाता है महेंद्रा ट्रेक्टर 10 टाप-कपनी