नींबू (Nimbu) को गर्म और उमस माना जाने वाला फल है भारत में अभी के समय इस का बहुत रोल हे लाखों कमा ने#indianfamrm

नींबू (Nimbu) को गर्म और उमस माना जाने वाला फल है जो भारत में बहुत अधिकता से पैदा किया जाता है। यह फल विभिन्न पोषक तत्वों और विटामिन सी से भरपूर होता है, जिसका उपयोग स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। नींबू के वृद्धि के लिए निम्नलिखित कुछ मुख्य कदम होते हैं:

1. जलवायु: नींबू को वृद्धि के लिए उचित जलवायु की आवश्यकता होती है। यह सुनहरा फल उष्णकटिबंधीय और तापमान में 20-40°C के बीच अच्छे से पलता है। अधिक ठण्डे मौसम में यह पौधा नहीं बढ़ता।

2. मिट्टी: नींबू को खेती के लिए खास तरह की मिट्टी चाहिए। यह पौधा आयोडीन, बोरॉन, मैंगनीज और जिंक के साथ समृद्ध मिट्टी में अच्छी तरह पलता है। मिट्टी का यह पीएच (pH) स्तर 5.5 से 6.5 के बीच होना आवश्यक होता है।

3. पौधों की रोपण व्यवस्था: नींबू की खेती के लिए उपयुक्त रोपण व्यवस्था आवश्यक होती है। नींबू के पौधे को 6×6 मीटर की दूरी पर रोपने का मामूला तरीका है। इसमें 250-300 पौधे प्रति हेक्टेयर के लिए आवश्यक होते हैं।

4. सिंचाई: नींबू को पानी की अच्छी आपूर्ति की जरूरत होती है। यह पौधा अतिरिक्त शुष्कता के समय में ठीक से नहीं बढ़ता है। इसलिए नियमित सिंचाई व्यवस्था के साथ खेती की जानी चाहिए।

5. खेती का समय: नींबू की खेती को ज्यादातर बरसाती मौसम में किया जाता है। इसे मॉनसून के बाद अक्टूबर से जनवरी तक खेती किया जा सकता है।

ध्यान रखें कि ये तरीके अंदाजे़ मात्रा हैं और इसे विशेष भू-स्थितियों, जलवायु और उपलब्ध संसाधनों के अनुसार समायोजित करना चाहिए। भारत में नींबू की खेती विभिन्न राज्यों में अलग-अलग तरीकों से की जा सकती है, इसलिए स्थानीय किसानों और कृषि विशेषज्ञों से अधिक जानकारी प्राप्त करना उपयुक्त होगा।
एक हैक्टेयर कमाई
इन सभी कारकों के मध्ये किसानों के अनुभव, खेती के प्रबंधन, और भू-स्थिति के अनुसार नींबू की वृद्धि अलग-अलग होती है, लेकिन आम तौर पर, एक हेक्टेयर में 15,000 से 20,000 पौधे लगाए जा सकते हैं और उससे 10 लाख से 20 लाख नींबू निकल सकते हैं। यह आम अनुमान है और यह भिन्न-भिन्न तत्वों पर निर्भर करता है।

Leave a comment

निंबू की खेती भारत में बड़े पैमाने पर की जा रही हैं गर्मियों में किसानों की बल्ले बल्ले, अब हरियाणा के किसानो को मिलेगी जापानी खेती बाड़ी की मशीनें अवाकाडो की खेती है लाखों की कमाई कर रहा है Indainfarmer अदरक चाय में डालकर चाय सुकुन आ जाता है महेंद्रा ट्रेक्टर 10 टाप-कपनी