₹7 करोड़ का हेलीकॉप्टर खरीदेगा बस्तर का किसान: कभी बैंक की जॉब छोड़कर शुरू की थी खेती; अब ₹25 करोड़ का खेती farmers news

₹7 करोड़ का हेलीकॉप्टर खरीदेगा बस्तर का किसान: कभी बैंक की जॉब छोड़कर शुरू की थी खेती; अब ₹25 करोड़ का टर्नओवर
Farmer Success Story: किसान डॉ. राजाराम त्रिपाठी वर्तमान में 25 करोड़ रुपये वार्षिक टर्न ओवर वाले मां दंतेश्वरी हर्बल समूह के सीईओ हैं और 400 आदिवासी परिवार के साथ एक हजार एकड़ में सामूहिक खेती कर रहे हैं. यह समूह यूरोपीय और अमेरिकी देशों में काली मिर्च का निर्यात कर रहा है.
यह सुनने में बहुत खुशी हो रही है कि बस्तर के एक किसान ने अपनी खेती से ऐसी महानतम सफलता हासिल की है। हेलीकॉप्टर खरीदना एक विशेष कारोबारी निवेश है और यह उपलब्धियों का प्रतीक है। इससे स्पष्ट होता है कि वह अपने कठिनाइयों और मेहनत के बावजूद महान प्रयासों के लिए सम्मानित हो रहा है।

यह कहानी और बढ़ाने वाली है कि कैसे एक व्यक्ति ने अपने सपनों को पूरा करने के लिए सामरिक वातावरण को त्यागकर किसानी में अपना रुझान लगा दिया। इससे यह साबित होता है कि जब हम अपने सपनों के पीछे दृढ़ता से खड़े होते हैं, तो हम अपार सफलता की ओर अग्रसर हो सकते हैं।

यह दृश्य एक प्रेरणादायक संदेश है, जो दूसरों को मजबूती और संकल्प की प्रेरणा देने के लिए काम करेगा। इस उदाहरण से बस्तर के अन्य किसान और उद्यमी भी प्रेरित होंगे कि वे अपने सपनों का पीछा करें और अपने क्षेत्र में नये आविष्कार और विकास के लिए प्रयास करें।

मैं इस किसान को हार्दिक बधाई देता हूँ और आशा करता हूँ कि उनकी सफलता और महान प्रयासों का अभिनंदन किया जाएगा। वह अगले पीढ़ियों के लिए एक आदर्श बन सकते हैं और सामरिक वातावरण में स्वयंसेवकों के लिए उपयोगी हो सकते हैं।

कृषि समाचार
खेती किसानी
₹7 करोड़ का हेलीकॉप्टर खरीदेगा बस्तर का किसान: कभी बैंक की जॉब छोड़कर शुरू की थी खेती; अब ₹25 करोड़ का टर्नओवर
Farmer Success Story: किसान डॉ. राजाराम त्रिपाठी वर्तमान में 25 करोड़ रुपये वार्षिक टर्न ओवर वाले मां दंतेश्वरी हर्बल समूह के सीईओ हैं और 400 आदिवासी परिवार के साथ एक हजार एकड़ में सामूहिक खेती कर रहे हैं. यह समूह यूरोपीय और अमेरिकी देशों में काली मिर्च का निर्यात कर रहा है.
बस्तर में सफेद मूसली और काली मिर्च के सबसे बड़े किसान डॉ. राजाराम त्रिपाठी अब खेतों की देखभाल के लिए हेलीकॉप्टर खरीदने जा रहे हैं. डॉ. राजाराम त्रिपाठी चार बार के सर्वश्रेष्ठ किसान पुरस्कार सम्मानित हैं. वे बस्तर के कोंडागांव और जगदलपुर में सफेद मूसली, काली मिर्च और स्ट्रोविया की फसल की खेती करते हैं. त्रिपाठी का पूरा परिवार खेती-बाड़ी करता है. अब यह किसान 7 करोड़ रुपये में नया हेलीकॉप्टर खरीदने जा रहा है. हॉलैंड की रॉबिंसन कंपनी से उन्होंने डील भी कर ली है. R-44 मॉडल का चार सीटर हेलीकॉप्टर खेती-किसानी के उपयोग में लाया जाता है. विशेष संसाधनों से युक्त यह उड़नखटोला डेढ़ से दो साल के भीतर बस्तर पहुंच जाएगा.
. राजाराम त्रिपाठी वर्तमान में 25 करोड़ रुपये वार्षिक टर्नओवर वाले मां दंतेश्वरी हर्बल समूह के सीईओ हैं और 400 आदिवासी परिवार के साथ एक हजार एकड़ में सामूहिक खेती कर रहे हैं. यह समूह यूरोपीय और अमेरिकी देशों में काली मिर्च का निर्यात कर रहा है.

कोंडागांव के रहने वाले राजाराम त्रिपाठी सफेद मूसली और जैविक खेती के लिए भी जाने जाते हैं. उन्होंने ऑस्ट्रेलियन ट्रिक के साथ काली मिर्च की खेती के लिए प्राकृतिक ग्रीन हाउस तकनीक भी विकसित की है, जिससे 40 वर्षों तक प्रति एकड़ करोड़ों रुपये की आय की प्राप्त की जा सकती है.

कृषि मंत्रालय और भारतीय कृषि एवं खाद्य परिषद की ओर से किसान राजाराम तीन बार देश के सर्वश्रेष्ठ किसान और राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड से एक बार सर्वश्रेष्ठ निर्यातक सम्मान से पुरस्कृत हो चुके हैं. राजाराम त्रिपाठी बस्तर के ऐसे पहले किसान बनेंगे, जिनके पास खुद को हेलीकॉप्टर होगा.

Leave a comment

निंबू की खेती भारत में बड़े पैमाने पर की जा रही हैं गर्मियों में किसानों की बल्ले बल्ले, अब हरियाणा के किसानो को मिलेगी जापानी खेती बाड़ी की मशीनें अवाकाडो की खेती है लाखों की कमाई कर रहा है Indainfarmer अदरक चाय में डालकर चाय सुकुन आ जाता है महेंद्रा ट्रेक्टर 10 टाप-कपनी