Nano Urea: नैनो यूरिया के छिड़काव के लिए IFFCO बांट

Nano Urea: नैनो यूरिया के छिड़काव के लिए IFFCO बांटेगी ड्रोन, वो भी मुफ्त में, जानिए क्या है प्लान, देश के किसान अब नवीनतम तकनीक का उपयोग करके अपनी खेती को आधुनिकीकृत कर रहे हैं। खेती क्षेत्र में नवीनतम तकनीकी उन्नयन के कारण किसानों के लिए नई संभावनाएं उत्पन्न हो रही हैं। बिहार के किसान खेती और बागवानी में तकनीक का उपयोग करने के लिए तैयार हो गए हैं। इस बात का परिणामस्वरूप बिहार के किसानों की नैनो यूरिया और रसायन के छिड़काव की मांग में वृद्धि हुई है।

सरकार ने खेती में ड्रोनों को प्रोत्साहित करने के लिए उपदान सुविधा का निर्णय लिया है और इस दिशा में इफको (IFFCO) ने बिहार के किसानों को 225 ड्रोन प्रदान किए हैं। एक ड्रोन की कीमत लगभग 15 लाख रुपये है, लेकिन इफको द्वारा पात्र किसानों को ये ड्रोन मुफ्त में दिए जा रहे हैं। किसानों को केवल जमानत राशि देनी होगी।

जानिए ड्रोन से खेत में रसायन के छिड़काव के बारे में
ड्रोन का उपयोग करके किसानों को इसका फायदा होगा। बिहार के किसान ड्रोन की सहायता से केवल आठ मिनट में एक एकड़ खेत में रसायन का छिड़काव कर सकेंगे और इसके लिए केवल 10 लीटर पानी की आवश्यकता होगी। इससे समय, पानी की बचत और मजदूरी की खर्च में कमी होगी। ड्रोन केवल उन किसानों को दिए जाएंगे जिनका पासपोर्ट होगा और उन्हें एक सप्ताह का पायलट प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। पात्र किसानों से केवल जमानत राशि लेंगे, जिसे सिक्योरिटी मनी के रूप में वापस किया जाएगा, और ड्रोन वापस करने पर उन्हें पैसे वापस किए जाएंगे।

Leave a comment

निंबू की खेती भारत में बड़े पैमाने पर की जा रही हैं गर्मियों में किसानों की बल्ले बल्ले, अब हरियाणा के किसानो को मिलेगी जापानी खेती बाड़ी की मशीनें अवाकाडो की खेती है लाखों की कमाई कर रहा है Indainfarmer अदरक चाय में डालकर चाय सुकुन आ जाता है महेंद्रा ट्रेक्टर 10 टाप-कपनी